logo

Whatsapp Number: +91-90416-06444

दिल से पूछो तो आज भी तुम मेरे ही हो

ये ओर बात है कि किस्मत दग़ा कर गयी

तमाम लोग मेरे साथ थे मगर मैं तो

तमाम उम्र तुम्हारी कमी के साथ रहा

कुछ तो रहम कर ऐ संग दिल सनम

इतना तड़पना तो लकीरो में भी न था

हमें भी आते है अंदाज़ दिल तोड़ने के

हर दिल में ख़ुदा बसता है यही सोचकर चुप हूँ मैं

ज़िन्दगी तो कब की खामोश हो गई है

दिल तो बस आदतां धड़कता है

मुझे मालूम है कि ये ख़्वाब झूठे हैं और ख़्वाहिशे अधूरी हैं

मगर जिंदा रहने के लिए कुछ ऐसी ग़लतफ़हमियाँ जरूरी हैं

दीदार-ए-यार की खातिर जिन्दा हूँ ग़ालिब

वर्ना कौन जीता है इस दुनिया में तमाशा बन कर

हंसते-हंसते हम तेरी दुनिया को छोड़ जाएंगे

लेकिन बाद में बहुत रोओगी, जब हम तुम्हें याद आएंगे

तू कल की तरह आज नहीँ साथ मेरे तो क्या हुआ

कैसे बताऊँ तुझे कि मोहब्बत तो हम तेरी दुरीयोँ से भी करतेँ हैँ

एहसास ए मुहब्बत के लिए बस इतना ही काफी है

तेरे बगैर भी हम तेरे ही रहते है

दिल जाली के यहाँ तुम आना जाना छोड़ दो

गिर पड़ेगी बिजलिया यू मुस्कुराना छोड़ दो

बदला लेने में क्या मजा है

मजा तो तब है जब तुम सामने वाले को बदल डालो

जहर के असरदार होने से कुछ नही होता दोस्त।
खुदा भी राजी होना चाहिए मौत देने के लिये।।

कट गया पेड़, मगर ताल्लुक की बात थी

बैठे रहे ज़मीन पर वो परिंदे रात भर

कट गया पेड़, मगर ताल्लुक की बात थी

बैठे रहे ज़मीन पर वो परिंदे रात भर

मरहम ना सही मेरे जख्मो पर नमक ही लगा दे..

यकिन मानो तेरे छुने से ये ठीक हो जायेंगें..

कैसे लिखु तेरा नाम बेवफा ये कलम भी

तो तेरे नाम की दीवानी है

मुझे ढूंढने की कोशिश न किया कर पगली

तूने रास्ता बदला मैंने मंज़िल ही बदल दी

लड़की उसको प्यार करती हैं, जो उसको छोड़ देता है.
और उसको छोड़ देती हैं जो उनको प्यार करता हैं.

किसी के दिल में क्या छुपा है ये बस खुदा ही जानता है

दिल अगर बेनकाब होता तो सोचो कितना फसाद होता

Load More
Top