logo

Whatsapp Number: +91-90416-06444

काश वो भी बेचैन होकर कह दे मेँ भी तन्हा हूँ

तेरे बिन तेरी तरह तेरी कसम तेरे लिए

किसी ने कहा है एक तरफ़ा प्यार कभी ख़त्म नहीं होता

पर किसी ने भी ये नहीं कहा एक तरफ़ा प्यार कभी पूरा नहीं होता

सबसे आवश्यक चीज है कि आप अपने जीवन का आनंद लें

खुश रहे बस यही मायने रखता है

टूटी फूटी कश्ती और एक खुश्क समंदर देखा था

कल रात मैने झांक के शायद अपने अंदर देखा था !

कभी न कभी वो मेरे बारे में सोंचेगी ज़रूर

के हासिल होने की उम्मीद भी नहीं फिर भी वफ़ा करता था

नकाब तो उनका सर से ले कर पांव तक था

मगर आँखे बता रही थी के मोहब्बत के शौकीन थे वो

तलाश कर लो मेरी कमियों को अपने ही दिल में एक बार

दर्द हो तो समझ लेना मोहब्बत अभी बाकि है

मौत पर भी है यकीन उन पर भी ऐतबार है

देखते हैं पहले कौन आता है दोनों का इंतजार है

ऐ जिंदगी हमे तुझसे तमन्ना कब है

अब तो इस हाल पे जीते हैं के मारना कब है

Phir jaag utha hai dil me purane dilon ka dard

Jee chahta hai phir koi taaza ghazal kahoon

कहीं तो दर्द होगा कोई सीने में ज़रूर

यूँ ही हर एक तनहा शायर नहीं होता

मेरे दिल ने अपनी वसीयत में लिखा है

मेरा कफन उसी दुकान से लाना जिससे वो अपना दुपटा खरीदती है

Khud hi de jaoge to behtar hai

Warna hum dil chura bhi lete hain

तू वो ज़ालिम है जो दिल में रह कर भी मेरा ना बन सका ग़ालिब

और दिल वो काफिर है जो मुझ में रह कर भी तेरा हो गया

सारी दुनिया की खुशी अपनी जगह

उन सबके बीच तेरी कमी अपनी जगह

Use sochna chahiye tha har sitam se pehle

Mai sirf Aashiq hi nahi Insaan bhi tha

बस यही सोचकर छोड दी हमने जिद्द मोहब्बत की

अश्क उनके बहे या मेरे रोयेंगी तो मोहब्बत ही

दर्द ऐ महोबत तो हमने भी बहुत की

पर भुल गये थे की HEROIN कभी VILLIAN की नही होती

नब्ज देखी हकीम ने कहा इसे इश्क की बीमारी है

दिल निकाल दो कमबख़्त बच जाएगा

कुछ इसलिये भी ख्वाइशो को मार देता हूँ

माँ कहती है घर की जिम्मेदारी है तुझ पर

Load More
Top